इन दोनों बातो का ख्याल रखने से कभी नही रहती पैसे कमी….

0
32
loading...

माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद हर कोई पाना चाहता हैं और पुरे विधि विधान से माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए अनुष्ठान करता हैं ।हर कोई अनेको तरीको से माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने का प्रयास करता हैं लेकिन मा लक्ष्मी की आराधना करने का सबसे बड़ा नियम बहुत ही कम लोगो को पता हैं । आपकी जानकारी के लिए बता दे जिस स्थान पर मा लक्ष्मी का पूजन किया जाता हैं वहां रौशनी का होना परम आवश्यक हैं । वास्तु शास्त्र भी इसकी पुष्टि कर चूका हैं की पूजा स्थल पर भरपूर रौशनी करके मा लक्ष्मी की आराधना की जाये तो वह शीघ्र प्रसन्न होती हैं ।हम सभी के घरो में पूजा स्थल होता हैं, वास्तु शास्त्र में भी पूजा स्थल को बड़ा महत्वपूर्ण बताया गया हैं और यह भी कहा गया हैं की किसी भी घर में आने जाने वाले सुख, दुःख और पैसे पर इसका प्रभाव पड़ता हैं ।

वास्तु शास्त्र में घर के ईशान कोण पर पूजा स्थल बनाने पर जोर दिया गया हैं जिसका कारण यह हैं की ईशान कोण पर देवी देवताओ का वास होता हैं ।वास्तु शास्त्र में जहाँ पुरे घर में दुधिया लाइट जलान शुभ माना गया हैं वही पूजा स्थल में पीले रंग की रौशनी करने से लाभ की प्राप्ति भी बताई गयी हैं ऐसा करने से घर में बरक्कत और कारोबार में बढ़ोतरी हो जाती हैं।

वास्तु शास्त्र में इस बात का जिक्र किया गया हैं की शाम के समय अपने आराध्य देव के सामने घी का दिया जलाकर रौशनी करने से सभी दुःख मिट जाते हैं और घर में माँ लक्ष्मी का आगमन होता हैं । शाम के समय यदि किसी घर में अँधेरा रहे तो शास्त्रों में कहा गया हैं की उस घर में आने वाली लक्ष्मी माता अपना रास्ता बदल लेती हैं और घर में नकारात्मक उर्जाये घुस जाती हैं । इन नकारात्मक उर्जाओ से छुटकारा पाने और घर में माता लक्ष्मी को बुलाने के लिए पूजा स्थल पर गोधुली बेला के टाइम रौशनी करना आवश्यक बताया गया हैं ।

हमे उम्मीद हैं हमारे द्वारा बताई गयी इस विधि को आप अपनायेगे और मा लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करेगे ।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here